हिंदी क्षेत्र में हिन्दुस्तान की बादशाहत बरकरार राष्ट्रपति ने पं.मदन मोहन मालवीय को भारत रत्न से नवाजा प्रधानमंत्री : फ्रांस, जर्मनी और कनाडा यात्रा से भारत के आर्थिक एजेंडे को मिलेगा बल इसरो ने किया आईआरएनएसएस-1 डी का सफल प्रक्षेपण सातवें आदिवासी युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम
यमन में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने का काम जारी भारत ने यमन से नागरिकों की वापसी के लिए भेजा विमान भारत-अमेरिका साझेदारी एक नए रणनीतिक चरण में : रिचर्ड वर्मा आरएसएस को आतंकवादी घोषित करने का विरोध करेगा अमेरिका अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार में अमिताभ भी शामिल

नुपुर तलवार गायब- तलाश जारी


नोएडा के चर्चित आरुषि-हेमराज हत्याकांड मामले में गाजियाबाद विशेष कोर्ट के गैर जमानती वारंट जारी करने के बाद से नूपुर तलवार का कोई पता नहीं चल रहा है। सीबीआई फिलहाल नूपुर का अब तक कोई पता नहीं लगा पाई है। सीबीआई लापता नूपुर की तलाश में कई जगहों पर आज भी छापेमारी कर रही है। गौरतलब है कि सीबीआई ने कल कई ठिकानों पर छापा मारा। दिल्ली और नोएडा स्थित नूपुर के घर में भी छापेमारी की गई, लेकिन सीबीआई को अब तक नूपुर के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है।

सीबीआई ने नोएडा के जलवायु विहार और दिल्ली के हौजखास में छापा मारा। इस दौरान सीबीआई के साथ महिला अधिकारियों की टीम भी थी। नूपुर तलवार की गिरफ्तारी के लिए सीबीआई सबसे पहले दिल्ली के हौज खास के आजाद अपार्टमेंट पहुंची। करीब एक घंटे तक नूपुर तलवार के घर से लेकर आजाद अपार्टमेंट की गहन छानबीन के बाद भी सीबीआई की टीम को नूपुर तलवार नहीं मिली। आखिरकार सीबीआई की टीम को खाली हाथ लौटना पड़ा।

हौजखास के बाद सीबीआई की टीम बुधवार रात नोएडा के जयवायु विहार में स्थित उनके घर भी पहुंची, लेकिन सीबीआई को यहां भी नूपुर के बारे में कुछ भी पता नहीं चला। गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद सीबीआई की टीम दोपहर ढ़ाई बजे से ही नूपुर की तलाश में कई जगहों पर छापेमारी कर रही थी।

दरअसल आरूषि और हेमराज हत्याकांड के मामले में बुधवार को गाजियाबाद में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में सुनवाई थी। सुनवाई में हर बार की तरह राजेश तलवार तो मौजूद थे लेकिन नुपुर तलवार नदारत थी। नूपुर की गैरहाजिरी पर सीबीआई ने अदालत से कहा कि वो जानबूझकर पेश नहीं हो रही हैं। लिहाजा कोर्ट उनके खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी करे। एक घंटे तक फैसला रोकने के बाद कोर्ट ने नूपुर के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया। कोर्ट ने 18 अप्रैल तक नूपुर को कोर्ट में हाजिर होने को कहा है।

बुधवार को कोर्ट में मामले की सुनवाई शुरू होते ही सीबीआई की ओर से उसके वकील ने अदालत को चार पन्नों की अर्जी दी। इस अर्जी में इलाहाबाद हाईकोर्ट के नए आदेश का जिक्र था। सीबीआई का आरोप था कि नूपुर ने कोर्ट के सामने गलत तथ्य पेश किए। इलाहाबाद हाई कोर्ट ने पांच अप्रैल को इस मामले में नूपुर को नोटिस जारी कर जवाब देने को कहा था। साथ ही अपने पुराने फैसले को रद्द करते हुए तमाम दस्तावेज तलब कर लिया था। वहीं दूसरी ओर राजेश और नूपुर तलवार के वकीलों ने कोर्ट से कहा कि नूपुर तलवार का मामला ऊपरी अदालत में लंबित है। लिहाजा उनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी नहीं किया जा सकता। लेकिन कोर्ट ने बचाव पक्ष की दलीलें नकार दी और नूपुर के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी कर दिया।

बहरहाल गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद नूपुर की परेशानियां बढ़ गई है। कोर्ट से ऑर्डर की कॉपी मिलने के बाद सीबीआई ने औपचारिक तौर पर नुपुर तलवार की गिरफ्तारी की कार्रवाई भले ही शुरू कर दी हो। लेकिन अब तक नूपुर का पता नहीं चल पाया है।

हिन्दी में राष्ट्रीय - अंतरराष्ट्रीय समाचार, लेख, भाषा - साहित्य एवं प्रवासी दुनिया से नि:शुल्क जुड़ाव के लिए
अपना ईमेल यहाँ भरें :

Leave a Reply